kyun ki har ek friend jaruri hota hai

मैंने भगवान से कहा,
“मेरे सभी दोस्तों को खुश रखना.”
.
भगवन बोले, “ठीक है तेरे कहने पर सिर्फ 4
दिन के लिए. वो चार दिन तू बता,”
.
मैं बोला ठीक है,
” summer day ”
” winter day ”
” rainy day ”
” spring day ”
.
भगवान् confused हो गए बोले,
“ये तो पूरा साल मांग लिया,
नहीं चलेगा सिर्फ 3 दिन,”
.
मैं फिर बोला “ठीक है,
” yesterday ”
” today ”
” tomorrow ”

भगवन फिर Confused बोले, “सिर्फ
दो दिन.”
.
मैं बोला “ठीक है दिन और रात,”
.
भगवान् फिर Confused बोले.”सिर्फ 1
दिन”
.
मैं बोला “हरदिन.”.
.
भगवन हंसने लगे और बोले
“अच्छा बाबा मेरा पीछा छोड़ो, तुम और
तुम्हरे दोस्त सदा खुश रहो…
“kyun ki har ek friend jaruri hota hai…”