पत्नी पर निबंध

पत्नी पर निबंध :

पत्नी नामक प्राणी भारत सहित पुरे विश्व में बहुताय पाए जाती है. प्राचीन समयमें यह भोजन शाला में पायी जाती थी, लेकिन वर्तमान में यह शौपिंग मोल्स, theaters, व् रेस्तौरेंट्स के नजदीक विचरती हुई अधिक पायी जाती है. पहलेइस प्रजाति में लम्बे बाल, सुन्दर आकृति व् पुरे वस्त्र प्रायः पाये जाते थे, लेकिनअब छोटे बाल, अतयन्त छोटे वस्त्र, कत्रिम श्वेत मुख, रक्त के सामान होठसामान्य रूप से देखे जा सकते है. इनका मुख्य आहार पति नामक मूक प्राणीहोता है. भारत में इन्हें  धर्म पत्नी, भाग्यवती, लक्ष्मी नामो से भी जाना जाता है.अधिक बोलना, अकारण झगड़ना, अति व्यय करना, इस प्रजाति के मुख्यलक्षणों में से है. हलाकि इस प्रजाति पर सम्पूर्ण अध्यन करना संभव नहीं है,किन्तु सामान्य तः इनके निम्न प्रकार होते है

१. सुशिल पत्नी – यह प्रजाति अब लिप्त हो चुकी है. इस प्रजाति की प्राणीसुशिल व् सहनशील होते थे और घरो में ज्यादा पाये जाते थे.

२. आक्रमक पत्नी – यह प्रजाति भारत सहित पुरे विश्व में बहुत अधिक मात्रा मेंपायी जाती है. ये अपनी आक्रामक शेली, व् तेज प्रहार के लिए जानी जाती है.समय आने पर ये बेलन, झाड़ू व् चरण पादुका का उपयोग अधिक करती है.

३. झगडालू पत्नी – यह प्रजाति भी वर्तमान में सभी जगह पायी जाती है. इन्हेंजॊर से बोलना व् झगडा करना अतंत्य पसंद होता है. इनका अधिकतर सामना”सास” नामक एक और अतंत्य खतरनाक प्राणी हे होता है.

४. खर्चीली पत्नी – भारत जैसे गरीब देश में भी पत्नियों की ये प्रजाति निरर्न्तरबढती जा रही है. इनकी मुख्य आदतों में क्रेडिट कार्ड रखना, बिना विचार कियेखर्च करना और बिना जरूरत वस्तुए खरीदना है. इस प्रजाति के साथ पतिनामक प्राणी को चप्पल में थका हुआ पीछे पीछे घूमते देखा जा सकता है.

५. नखरीली पत्नी – इस प्रजाति के प्राणी अधिकतर आयने के सामने देखी जातीहै. इनके होठ रक्त के सामान लाल, नाख़ून बड़े बड़े, केश सतरंगी और चहरा श्वेतपाउडर से लीपा होता है. इन्हें भोजन शाला में जाना और काम करना नापसंदहोता है.

चेतावनी – पति नामक प्राणी के लिए इस प्रजाति के प्राणी अतंत्य खतरनाक व्आक्रामक होते है. इन्हें साड़ी, गिफ्ट्स, फ्लावर्स के द्वारा कुछ समय के लिएनियंत्रित किया जा सकता है.